दमण-दीव की बेटियां किसी से कम नहीं है, बेटियों को किसी भी क्षेत्र में आगे बढने से नहीं रोकना चाहिए : एस. एस. यादव - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Friday, August 17, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • दमण-दीव की बेटियां किसी से कम नहीं है, बेटियों को किसी भी क्षेत्र में आगे बढने से नहीं रोकना चाहिए : एस. एस. यादव
    - स्वामी विवेकानंद ऑडिटोरियम में राष्ट्रीय बालिका दिवस हुआ राजकीय समारोह - आज बेटियां हर क्षेत्र में लडकों से कहीं आगे है, जरूरत है बेटियों को सम्मान देने की : सांसद लालू पटेल - बालिका जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़कर समान रूप से भागीदारी ले रही है : गुरप्रीत सिंह - सांसद लालू पटेल, प्रशासक के सलाहकार तथा स्वास्थ्य सचिव एस. एस. यादव, दमण कलेक्टर संदीप कुमार सिंह, डीएमसी प्रेसिडेंट शौकत मिठाणी, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशिका गुरप्रीत सिंह, स्वास्थ्य निदेशक डॉ. वी. के. दास एवं उपसचिव कृषि एवं दमण कॉलेज के प्रिंसिपल राकेश कुमार, जिला पंचायत सदस्य तरूणा पटेल समेत अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की रही उपस्थिति -दमण कॉलेज की छात्राओं ने नाटक पेश कर कन्या भ्रूण हत्या न करने का समाज को दिया संदेश - सहायक निदेशिका चित्रलेखा शर्मा ने पंक्तियों के जरिये बेटियों की बताई महत्वता
    असली आजादी ब्यूरो, दमण 24 जनवरी। संघ प्रदेश दमण प्रशासन ने राष्ट्रीय बालिका दिवस पर स्वामी विवेकानंद सभागार में राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया। स्वास्थ्य सचिव एस. एस. यादव, सांसद लालू पटेल, उपसचिव गुरप्रीत कौर और कलेक्टर संदीप कुमार सिंह ने दीप जलाकर कार्यक्रम की शुरूआत की। इस मौके पर स्वास्थ्य सचिव एस.एस.यादव और सांसद लालूभाई पटेल ने उपस्थित बालिकाओं को राष्ट्रीय बालिका दिवस की शुभकामनायें दीं इस अवसर पर सांसद लालू पटेल, प्रशासक के सलाहकार तथा स्वास्थ्य सचिव एस. एस. यादव, दमण कलेक्टर संदीप कुमार सिंह, डीएमसी प्रेसिडेंट शौकत मिठाणी, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशिका गुरप्रीत सिंह, स्वास्थ्य निदेशक डॉ. वी. के. दास एवं उपसचिव कृषि एवं दमण कॉलेज के प्रिंसिपल राकेश कुमार समेत अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे। इस मौके पर सांसद लालू पटेल ने कहा कि दमण-दीव में लड़की और लड़के के जन्म अनुपात में अंतर है। इसे दूर करना हम सब की जिम्मेदारी है। आज बेटियां हर क्षेत्र में लडकों से कहीं आगे है, आज जरूरत है बेटियों को सम्मान देने की। बेटी ही है जो माता-पिता की प्यारी होती है। इस अवसर पर प्रशासक के सलाहकार तथा स्वास्थ्य सचिव एस. एस. यादव ने कहा कि आज बालिका दिवस हैं, हमारी दमण-दीव की बेटियां किसी से कम नहीं है और उन्होंने महान महिलाओं का उदाहरण देते हुए बताया कि जैसे रानी लक्ष्मीबाई, मैरी कोम, सायना नेहवाल, किरण बेदी, दीपा करमरकर जैसी महिलाओं की तरह हमारे दमण-दीव की बेटियां भी पूरे देश-दुनिया में अपना नाम रोशन करे। साथ ही कन्या भ्रूण हत्या जैसे घिनौने अपराध पर लगाम लगनी चाहिए। बेटियों को किसी भी क्षेत्र में आगे बढने से नहीं रोकना चाहिए। उनकी इच्छाओं की कद्र करनी चाहिए। समाज में जितना मान लडके का होता हैं, उतना ही मान बालिकाओं का भी होना चाहिए। उपसचिव कृषि एवं दमण कॉलेज के प्रिंसिपल राकेश कुमार ने बताया कि हर वर्ष राष्ट्रीय बालिका दिवस 24 जनवरी को मनाया जाता है। इसी दिन पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को नारी शक्ति के रूप में याद किया जाता है। इस दिन इंदिरा गांधी पहली बार पीएम की कुर्सी पर बैठी थी इसलिए इस दिन को राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाने का निर्णय साल 2008 से लिया गया। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशिका गुरप्रीत सिंह ने कहा कि आज की बालिका जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़ रही है चाहे वो क्षेत्र खेल हो या राजनीति, घर हो या उद्योग। राष्ट्रमण्डल खेलों के गोल्ड मेडल हो या मुख्यमंत्री और राष्ट्रपति के पद पर आसीन होकर देश सेवा करने का काम हो सभी क्षेत्रों में लड़कियां समान रूप से भागीदारी ले रही है। आशा है कि इन सभी से प्रेरित होकर दमण की लडकियां भी सभी क्षेत्रों में बेहतर प्रदर्शन करेगी और दमण का नाम रोशन करेगी। इस अवसर पर डॉ. सुधीर नायर ने प्रेजेंटेशन के माध्यम से किशोरियों को स्वास्थ्य एवं पोषक आहार के बारे में विस्तृत रूप से बताया। पोषक आहार लेने से शारीरिक एवं मानसिक रूप से हमारी बेटियां किस प्रकार स्वस्थ रहेंगी तथा जीवन के हर एक क्षेत्र में सफलता प्राप्त कर सकेगी। राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में दमण कॉलेज की छात्राओं ने समाज में 'कन्या भ्रूण हत्या' रोकने पर नाट्य प्रस्तुत किया। व्याख्यान प्रतियोगिता, चित्रकला प्रतियोगिता के विजेताओ को, विभिन्न शेत्र में अव्वल स्थान प्राप्त करने वाली लडकियों, स्वास्थ्य विभाग की उत्कृष्ट लिंक वर्करो को अच्छे कार्य के लिए प्रोत्साहन पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। व्याख्यान प्रतियोगिता में नर्सिंग कॉलेज की छात्राओं को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिये पुरस्कृत किया गया। इसके अलावा शिक्षा, खेल समेत क्षेत्रों में बेहतर प्रदर्शन करने वाली बालिकाओं का सम्मान हुआ। बालिका दिवस के मद्देनजर विद्यालयों में गत दिनों आयोजित चित्रकला प्रतियोगिता में बेहतरीन चित्रकारी करने वाली छात्राओं को मंच पर पुरस्कृत किया गया। भारत सरकार के गृह मंत्रालय में राज्य भाषा विभाग की सहायक निदेशिका चित्रलेखा शर्मा ने अपने वक्तत्व में विशेष रूप से दो पंक्तियों द्वारा बताया कि माता-पिता की आन-बान शान होती है बेटियां, धर्म में गीता और कुरान होती है बेटियां, बहादुर- ममतामई और गुणों की खान होती है बेटियां इसलिए देश और समाज में महान होती है बेटियां। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS