दमण-दीव की जनता को फिर से सीआरजेड के नाम पर ठगा गया, ग्रामीण क्षेत्रों को सीआरजेड-3 में ही रखा गया बरकरार : केतन पटेल - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Friday, August 17, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • दमण-दीव की जनता को फिर से सीआरजेड के नाम पर ठगा गया, ग्रामीण क्षेत्रों को सीआरजेड-3 में ही रखा गया बरकरार : केतन पटेल
    - तत्कालीन मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी दो बार दमण-दीव की जनता से सीआरजेड में राहत का कर चुके है वादा, फिर भी नहीं बदला ग्रामीण क्षेत्र की जनता का भाग्य: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष केतन पटेल
    दमण 12 मई। दमण-दीव प्रशासन द्वारा 2011 के सीआरजेड नोटिफिकेशन के आधार पर तैयार किये हुए नक्शे एवं मसौदे को जारी करने के साथ ही ग्रामीण क्षेत्र में सीआरजेड-3 की यथास्थिति को देखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष केतन पटेल ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि दमण-दीव की जनता के साथ फिर एक बार धोखा हुआ है। उन्होंने कहा कि तत्कालीन गुजरात के मुख्यमंत्री एवं प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेन्द्रभाई मोदी 2009 और 2014 में लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान प्रदेश की जनता से वादा करके गये थे कि सीआरजेड की समस्या को दूर करेंगे। जनता को सीआरजेड में राहत देंगे। लेकिन मोदी सरकार के गठन के 4 साल पूरे होने जा रहे है फिर भी दमण-दीव की जनता को सीआरजेड में राहत देने का कोई प्रस्ताव केन्द्र सरकार ने नहीं दिया। दमण-दीव प्रशासन ने हाल ही में जो मेप आपत्ति और सुझाव के लिए जारी किया है वह ग्रामीण क्षेत्र की जनता के लिए किसी संकट से कम नहीं है। सीआरजेड-3 के नाम पर ग्रामीण क्षेत्र में विकास का गला घोटा जा रहा है। ऐसे में जनता को उम्मीद थी कि शायद सीआरजेड के मामले में अच्छे दिन आयेंगे लेकिन ग्रामीण क्षेत्र की जनता को सिर्फ और सिर्फ निराशा ही हाथ लगी है। दमण-दीव प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष केतन पटेल ने सांसद लालू पटेल पर भी निशाना साधते हुए कहा कि कई बार सार्वजनिक मंच से जनता के सामने ऐलान कर चुके है कि पूरे दमण को सीआरजेड-2 में तब्दील कर दिया गया है। आपको मैं जल्द खुशखबरी दूंगा। लेकिन दमण-दीव प्रशासन ने सीआरजेड के नये नामांकरण (सीजेडएमपी) का मेप जो जारी किया है वो तो अलग ही कहानी बयां कर रहा है। केतन पटेल ने कडैया, देवका, मरवड, दमणवाडा, परियारी, जंपोर एवं वरकुंड की जनता से आह्वान किया है कि दमण-दीव प्रशासन द्वारा 15 दिनों के भीतर मांगे गये सुझाव एवं आपत्ति की प्रक्रिया में बडी संख्या में शामिल होकर सीआरजेड-3 का पुरजोर विरोध करे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र की जनता जागरूकता के माध्यम से ही सीआरजेड-3 से निजात पा सकती है। केतन पटेल ने कहा कि वे जल्द तटीय क्षेत्र के गांवों का दौरा करेंगे और लोगों को सीआरजेड-3 के खिलाफ जागरूक करेंगे।

    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS