दमण पुलिस ने दाभेल डबल मर्डर केस मामले में शार्प शूटर को किया गिरफ्तार:पूरे मामले से पर्दा उठेगा जल्द - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Monday, October 22, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • दमण पुलिस ने दाभेल डबल मर्डर केस मामले में शार्प शूटर को किया गिरफ्तार:पूरे मामले से पर्दा उठेगा जल्द
    - डीआईजीपी बी.के. सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस कर मीडिया को दी अधिकृत जानकारी - प्रशासक प्रफुल पटेल के सतत मार्गदर्शन एवं यूपी एसटीएफ की मदद से दमण पुलिस ने नूर मोजम मोहम्मद अनवर सिद्दीकी को 2 जून को किया गिरफ्तार, ट्रांसफर वॉरंट के बाद दमण कोर्ट में पेश किया, 8 दिन का मिला रिमांड:डीआईजीपी बी.के. सिंह - दमण पुलिस बाकी के फरार आरोपियों को जल्द पकडने का कर रही है प्रयास, 1-1 लाख का ईनाम भी घोषित:डीआईजीपी - पकडे गये आरोपी से उगलवायेंगे सारे राज, दमण पुलिस ने हत्या से जुडे जुटा लिये हैं सारे सबूत: बी.के. सिंह
    असली आजादी ब्यूरो, दमण 06 जून। दाभेल डबल मर्डर मामले में दमण पुलिस को बडी सफलता मिली है। पुलिस ने उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद से शार्प शूटर नूर मोजम मोहम्मद अनवर सिद्दीकी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। दमण-दीव एवं दानह डीआईजीपी बी. के. सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस कर आज इसकी अधिकृत जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि संघ प्रदेश प्रशासक प्रफुल पटेल के मार्गदर्शन में पुलिस की टीम ने मर्डर मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार करने में कामयाब हुई है। डीआईजीपी ने बताया कि दमण पुलिस थाने में 1 अप्रैल 2018 को एफआईआर नं. 39/18, आईपीसी धारा 341, 302, 120 -बी आर/डब्ल्यू 34 एवं 25, 27 आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था। जिसमंे शिकायतकर्ता छोटूभाई दयालभाई पटेल निवासी कुंभार फलिया, दाभेल ने अपनी शिकायत दर्ज कराते हुए बताया कि वह अपने एक रिश्तेदार अजय रमण पटेल एवं अजय पटेल का साथी धीरेन्द्र उर्फ धीरु दुर्लभ पटेल के साथ अजय पटेल की टोयोटा इनोवा गाड़ी नंबर डीडी-03 जी-3088 में बैठकर वापी से दमण की ओर आ रहे थे। दमण आते वक्त उन्होंने अपनी गाड़ी दाभेल विस्तार स्थित विशाल बार के पास दारू-बियर लेने के लिए रोकी। जब शिकायतकर्ता छोटू पटेल एवं धीरेन्द्र उर्फ धीरु उर्फ धीरियों दर्लभ पटेल दारू-बियर लेने के लिए गाड़ी से बाहर उतरकर विशाल बार में जा रहे थे तभी 5 से 6 अज्ञात व्यक्ति गाड़ी लेकर आए और अपनी गाड़ी से अजय पटेल की गाड़ी में टक्कर मार दी। इसके बाद वह बाहर निकलकर अजय पटेल जो की गाड़ी में ही मौजूद था उस पर फायरिंग करने लगे। फायरिंग होने की वजह से अजय पटेल अपनी गाड़ी में से उतरकर धीरेन्द्र उर्फ धीरु उर्फ धीरियों दुर्लभ पटेल के साथ विशाल बार में अंदर की ओर भागने लगे। उन्हंे भागता देख 5 से 6 अज्ञात हमलावरों ने उनका पीछा किया और फायरिंग करना चालू किया। फायरिंग में अजय रमण पटेल एवं धीरेन्द्र उर्फ धीरु उर्फ धीरियों दुर्लभ पटेल दोनों घायल हो गए और उनकी मौत हो गयी। मामले की गंभीरता को ध्यान में लेते हुए दमण -दीव एवं दादरा नगर हवेली डीआईजीपी बी. के. सिंह, दमण एसपी सेजू कुरुविला एवं एसडीपीओ रविन्द्र कुमार शर्मा के मार्गदर्शन में नानी दमण पुलिस स्टेशन एसएचओ पंकेश टंडेल के नेतृत्व में अलग-अलग टीम बनाई गयी। घटना की जांच के दौरान अलग-अलग पहलुओं में छानबीन की गई। जिसमें सीसीटीवी फुटेज, टेक्निकल एनालायसिस एवं संदिग्धों से पूछताछ की गई। जिसमें पता चला कि एक आरोपी नूर मोजम मोहम्मद अनवर सिद्दीकी (37) निवासी सबाना पार्क, सिल्वर पार्क के पीछे, नरोल, वटवा रोड, वटवा, अहमदाबाद, गुजरात और मूल निवासी गाँव/पोस्ट मुबारकपुर, थाना-नवाबगढ़, जिला-इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश ने अपने साथियों के साथ इस घटना को अंजाम दिया था। जानकारी मिलने के बाद तुरंत पुलिस की एक टीम बनाकर अपराधी की खोजबीन के लिए इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश के लिए रवाना की गयी। जांच के दौरान अपराधी नूर मोजम मोहम्मद अनवर सिद्दीकी को इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश से पकड़ लिया गया और उसकी पूछताछ की गई। पूछताछ के दौरान अपराधी ने अपना अपराध कबूल कर लिया। इसके बाद अपराधी को गिरफ्तार कर ट्रांसिट वारंट के आधार पर उत्तर प्रदेश से दमण लाया गया। दमण पुलिस ने आरोपी को दमण कोर्ट में 5 जून को पेश किया। जहां पर जेएमएफसी दमण कोर्ट ने आरोपी को 8 दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड में भेज दिया। पुलिस रिमांड के दौरान आरोपी से पूछताछ में उसके साथियों के नाम और सबूत पुलिस को मिल पाएंगे। यह उन 4 शूटरों में से एक हैं जिसका चेहरा घटना के दिन हथियारों से गोली मारते हुए सीसीटीवी में कैद हुआ था और उन तस्वीरों को दमण पुलिस ने पब्लिक में जारी किया था। इसकी गिरफ्तारी तक पहुंचने के लिए दमण पुलिस को काफी मुस्तैदी बरतनी पड़ी थी, क्योंकि इसकी पहचान मालूम नहीं थी। दमण पुलिस की 2 टीम टेक्निकल सर्विलांस के आधार पर उत्तर प्रदेश के विभिन क्षेत्रों में छापेमारी कर रही थी। तभी एसटीएफ उत्तर प्रदेश की मदद से दमण पुलिस ने सिविल लाइन्स में छापेमारी करके इसको बड़ी मेहनत से पकड़ा है। इस कार्यवाही में उत्तर प्रदेश की एसटीएफ टीम ने दमण पुलिस की काफी मदद की हैं जिसके लिए डीआईजीपी ने तहेदिल से उनको ध्यनवाद दिया। डीआईजीपी ने बताया कि इस मामले में आगे जो भी जानकारी पुलिस को मिलेगी उसे समय-समय पर प्रेस को अवगत कराया जायेगा। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान डीआईजीपी बी. के. सिंह के साथ एसपी सेजू पी. कुरुविला, एसडीपीओ रविन्द्र कुमार शर्मा, थाना प्रभारी पंकेश टंडेल, पीआई सोहिल जीवाणी, सबास्टियन देवासिया सहित अन्य पुलिसकर्मी मौजूद रहे।
    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS