पटलारा हाईस्कूल एवं सार्वजनिक विद्यालय में कानूनी साक्षरता क्लब का हुआ शुभारंभ - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Wednesday, December 12, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • पटलारा हाईस्कूल एवं सार्वजनिक विद्यालय में कानूनी साक्षरता क्लब का हुआ शुभारंभ
    - जिला जज एम. आर. देशपांडे, सिविल जज जे. सी. यादव, ज्युडिशियल मजिस्ट्रेट ए. पी. कोकाटे तथा वकीलों ने विद्यार्थियों को रैगिंग और अंडरएज ड्राइविंग सहित नि:शुल्क कानूनी सेवा के बारे में बताया
    दमण 18 सितंबर। दमण के पटलारा सरकारी माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक विद्यालय और सार्वजनिक विद्यालय में जिला जज एम. आर. देशपांडे, सिविल जज जे. सी. यादव, ज्युडिशियल मजिस्ट्रेट ए. पी. कोकाटे ने वकीलों, प्रिंसिपलों एवं विद्यार्थियों की उपस्थिति में कानूनी साक्षरता क्लब का उद्घाटन किया। इसके बाद विद्यार्थियों को रैगिंग, अंडरएज ड्राइविंग एवं नि:शुल्क कानूनी सेवा के बारे में जानकारी दी गयी। कानूनी साक्षरता शिविर के दौरान इन दोनों ही विद्यालयों में छात्रों को जिला जज एम. आर. देशपांडे ने कानूनी जानकारी देते हुए कहा कि कानून के बारे में जानना अत्यंत जरुरी है, क्योंकि पढलिखकर आगामी दिनों में आप भी वकील बन सकते है तब इसकी आपको जरुरत होगी। उन्होंने बच्चों को कानून का पालन करने की सलाह दी। उन्होंने नि:शुल्क कानूनी सेवा लेेने के बारे में भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जब आपको कानून की जानकारी होगी तभी आप घर एवं आसपास के लोगों को इसके बारे में बता पायेगें। वकील टेरेंस सेंडिस ने 18 साल से कम उम्र में बाइक चलाने से बचने की सलाह दी। उन्होंने विद्यार्थियों को बिना लाइसेंस वाहन न चलाने की हिदायत देते हुए 18 वर्ष की आयु पूरी करने वाले विद्यार्थियों को ड्राइविंग सीखने के बाद लाइसेंस लेने के बाद ही मोटरसाइकिल चलाने की सीख दी। इस दौरान रैंगिंग को अपराध बताते हुए वकीलों ने इसके दोषी छात्रों को मिलने वाली सजा के बारे में भी बताया। विद्यार्थियों को रैंगिंग जैसी गतिविधियों से दूर रहने की सलाह दी। इस अवसर पर वकील सिया हंसराज, पी. डी. पटेल, चिंतन मोडासिया सहित स्कूलों के प्रिंसिपल, शिक्षकों एवं विद्यार्थियों की उपस्थिति रही। उल्लेखनीय है कि जिला कानूनी सेवा प्राधिकरण की ओर से विद्यालयों, नागरिकों और समाज के अन्य घटकों को कानूनी साक्षरता शिविरों के माध्यम से कानूनों के बारे में अवगत कराया जा रहा है। इसी के तहत दमण के दो स्कूलों में आज कानूनी साक्षरता क्लब की शुरुआत करने के साथ ही बच्चों को कानून के प्रति जागरुक किया गया।
    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS